Published On: Fri, Jul 3rd, 2020

विश्राम सावधान आक्रमण

Share This
Tags
Spread the love

कानपुर. उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले से शुक्रवार सुबह बेहद दुखद खबर आई है। जिले के चौबेपुर थाना क्षेत्र के विकरू गांव में दबिश देने पहुंची यूपी पुलिस की टीम पर बदमाशों ने अंधाधुंध फायरिंग धोंक दी। इस फायरिंग में सीओ बिल्हौर (डीएसपी) समेत 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए। जबकि एसओ बिठूर समेत 6 पुलिसकर्मी गंभी रूप से घायल हुए हैं। सभी घायल पुलिसकर्मियों को बेहद गंभीर हालत में कानपुर के रीजेंसी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है

*यूपी डीजीपी हितेश चंद्र अवस्थी का बयान*

हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे के खिलाफ धारा 307 के तहत मामला दर्ज किया गया था, पुलिस उसे गिरफ्तार करने गई थी – हितेश चंद्र।

जेसीबी को वहां लगा दिया गया जिससे हमारे वाहन बाधित हो गए। फोर्स के उतरने पर अपराधियों ने गोलियां चलाईं – हितेश चंद्र।

जवाबी फायरिंग हुई लेकिन अपराधी ऊंचाई पर थे, इसलिए हमारे 8 लोगों की मौत हो गई – हितेश चंद्र।

हमारे लगभग 7 आदमी घायल हो गए। ऑपरेशन अभी भी जारी है क्योंकि अंधेरे का फायदा उठाकर अपराधी भागने में सफल रहे – हितेश चंद्र।

आईजी, एडीजी, एडीजी ( लॉ एंड ऑर्डर ) को ऑपरेशन की निगरानी के लिए वहां भेजा गया है – हितेश चंद्र।

कानपुर से फॉरेंसिक टीम मौके पर थी, लखनऊ से एक विशेषज्ञ टीम भी भेजी जा रही थी – हितेश चंद्र।

एसटीएफ को तैनात किया गया है। आईजी- एसटीएफ मौके पर पहुंच रहे हैं – हितेश चंद्र।

कानपुर एसटीएफ पहले से ही काम पर है। बड़े पैमाने पर अस्पष्टता बरती जा रही है – हितेश चंद्र।

यह उस ऑपरेशन के सिलसिले में जारी है जिसके लिए टीम पहले स्थान पर गई थी – हितेश चंद्र।

Disclaimer: News collected from various sources just to pay patronage to our beloved martyrs and seek immediate action against such brutal conspiracy against law and system.

About the Author

- I am an internet marketing expert with an experience of 8 years.My hobbies are SEO,Content services and reading ebooks.I am founder of SRJ News andTech Preview.

Composite Start -->
Loading...